Bhartiya Parmapara
fdsadfsadf

त्योहार

नवरात्रि के नवमें दिन माँ सिद्धिदात्री की पूजा, व्रत कथा, मंत्र, आरती, भोग...

नवरात्रि के नौवें दिन को महानवमी कहा जाता है। इस दिन मां सिद्धिदात्री की विधि विधान से पूजा-अर्चना की जाती है। मां दुर्गा का यह स्‍वरूप सभी प्रकार की सिद्धियों को देने वाला है, कहते हैं कि सिद्धिदात्री की आराधना करने से सभी प्रकार का ज्ञान आसानी से मिल जाता है, सा...

श्री लक्षेश्वर - महाशिवरात्रि पर्व

वैसे तो पूरा साल श्री लक्षेश्वर में दर्शनार्थियों का आना जाना लगा रहता है, किन्तु अनेक भव्य उत्सवों में यहाँ का एक भव्य उत्सव याने श्री महाशिवरात्रि यात्रा महोत्सव! माह महीने की कृष्णपक्ष की चतुर्दशी को आने वाली शिवरात्रि अर्थात महाशिवरात्रि!  महाशिवरात्रि का यह...

चैत्र नवरात्रि का महत्व

हिंदू धर्म में प्रचलित मान्यताओं के अनुसार चैत्र नवरात्रि के पहले दिन मां दुर्गा का जन्म हुआ था और मां दुर्गा के कहने पर ही ब्रह्मा जी ने सृष्टि का निर्माण किया था। इसीलिए चैत्र शुक्ल प्रतिपदा से हिन्दू वर्ष शुरू होता है। कई स्थानों पर इसे “गुड़ी पड़वा” भी क...

राम की शक्ति पूजा और नवरात्रि का आरंभ | रामनवमी

राम की शक्ति पूजा जिसे नवरात्रि का आरंभ भी माना जाता है और इस कथा को अपने खूबसूरत शब्द - विन्यास, वाक्य - विन्यास के साथ प्रस्तुत किया है मां बागेश्वरी के सुयोग्य पुत्र- महाप्राण सूर्यकांत त्रिपाठी निराला l निराला जी की कृति राम की शक्ति पूजा की आरंभिक पंक्तियां- "रवि...

दर्शनीय स्थल

महामृत्युंजय मंत्र | महामृत्युंजय मंत्र जाप

कहते हैं, शिव की आराधना करने से हमारे सारे पाप नष्ट हो जाते हैं और हमारी जो भी मनोकामनाएं है वह पूरी होती है। हमारे त्रिदेव ब्रह्मा, विष्णु, महेश इनके आधार पर ही यह दुनिया चलती है। इनका आशीर्वाद हमेशा हमारे साथ ना दिखाई देने वाली शक्ति की तरह होता है। जिसका एहसास हमें...

ब्रह्मांड के स्वामी शिव

शिव ब्रह्मांड के स्वामी हैं, वे ऊर्जा, शक्ति, स्थिरता और शांति के एकमात्र स्रोत हैं। ब्रह्मांड एक बड़े परमाणु की तरह है और शिव ब्रह्मांड के केंद्र में मौजूद हैं। शिव एक नाभिक हैं, इस परमाणु का एक केंद्रीय हिस्सा हैं, वह इस ब्रह्मांड का भार उसी तरह संभाल रहे हैं जैसे प...

मसूड़ों में खून निकलना और सूजन आना

1/4 चम्मच हल्दी पाउडर, 1 चुटकी नमक, 2-3 बूंद सरसों का तेल लें, सबको अच्छी तरह मिलाएं और प्रतिदिन दांतों और मसूड़ों पर धीरे-धीरे मालिश करें। इससे दांत सफेद और मसूड़े मजबूत हो जाते हैं।

बालों का झड़ना

1/2 kg नारियल का तेल और 50 ग्राम करी पत्ते (मिठा नीम), दोनों को 5 मिनट साथ उबालें और फिर तेल को ठंडा होने दें।  फिर उस तेल को छान कर एक बोतल में भरदे। सप्ताह में दो बार मालिश करें। बाल मजबूत होंगे और चमकदार भी बनेंगे। 

नवीनतम ब्लॉग

सभी को देखें
What is Success

ज्योतिष की विभिन्न विधाये और राजा सवाई जयसिंह (जयपुर) का योग...

जयपुर शहर के संस्थापक महाराजा सवाई जयसिंह जी ज्योतिष, खगोल शास्त्र, अंतरिक्ष विज्ञान एवं वास्तुशास्त्र के विशेषज्ञ थे।  उनके शासन काल में इन विषयों पर अनेको ग्रंथो की रचना की गयी। उनके द्वारा ग्रह...

What is Success

मां अंगार मोती, गंगरेल धमतरी | संभावनाओ का प्रदेश - छत्तीसगढ...

वनदेवी मां अंगार मोती परम तेजस्वी 'ऋषि अंगिरा' की पुत्री हैं। जिनका आश्रम, सिहावा के पास गंढाला में स्थित है। कहते हैं कि, मां अंगार मोती एवं  मां विंध्यवासिनी  दोनों बहने हैं। कहा जाता है कि, देवी का मूल मंद...

What is Success

माँं महामाया मंदिर अंबिकापुर | संभावनाओ का प्रदेश - छत्तीसगढ...

शक्ति पीठों की इस श्रृंखला में, अगला नाम "अंबिकापुर की माँ महामाया" का आता है। जिनका एक नाम अंबिका भी है। जिनके नाम पर यह शहर, अंबिकापुर कहलाया। महामाया मंदिर की स्थापना १५वी शताब्दी के आसपास हुई थी। यह एक जागृत एवम् स...

साहित्यिक एवं आध्यात्मिक संग्रह

;
dsadfsdaf
©2020, सभी अधिकार भारतीय परम्परा द्वारा आरक्षित हैं। MX Creativity के द्वारा संचालित है |