Bhartiya Parmapara

ज्योतिष की विभिन्न विधाये और राजा सवाई जयसिंह...

जयपुर शहर के संस्थापक महाराजा सवाई जयसिंह जी ज्योतिष, खगोल शास्त्र, अंतरिक्ष विज्ञान एवं वास्तुशास्त्र के विशेषज्ञ थे।  उनके शासन काल में इन विषयों पर अनेको ग्रंथो की रचना की गयी। उनके द्वारा ग्रहों, नक्षत्रों एवं अन्य आकाशीय पिण्डों के अध्य्यन ह...

रावणहत्था | रावणहत्था वाद्ययंत्र | रावणहत्था...

रावणहत्था सारंगी का ही एक रुप है। यह राजस्थान का एक विशेष वाद्ययंत्र है जो राजस्थान के लोकसंगीत की पहचान करवाता है और यहां के लोकगीतों में जान फूंकता है। इसके बगैर राजस्थान के लोकगीत जैसे अपाहिज से जान पड़ेगें। शादी हो या जन्मदिन या अन्य कोई त्यौहार यह हर मौके पर खूब...

;
dsadfsdaf
©2020, सभी अधिकार भारतीय परम्परा द्वारा आरक्षित हैं। MX Creativity के द्वारा संचालित है |